PDFSource

Dr Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi PDF

Dr Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi PDF Download

Dr Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi PDF Download for free using the direct download link given at the bottom of this article.

Dr Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi PDF Details
Dr Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi
PDF Name Dr Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi PDF
No. of Pages 7
PDF Size 1.33 MB
Language English
Categoryहिन्दी | Hindi
Source pdffile.co.in
Download LinkAvailable ✔
Downloads28
If Dr Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi is a illigal, abusive or copyright material Report a Violation. We will not be providing its PDF or any source for downloading at any cost.

Dr Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi

नमस्कार पाठक को आज हम आपके लिए डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जीवनी PDF /Biography of Dr Sarvepali Radhakrishnan  PDF लाए हैं। डॉ. एस. राधाकृष्णन एक भारतीय दार्शनिक और राजनेता थे, जिन्होंने भारत के पहले उपराष्ट्रपति (1952-1962) और भारत के दूसरे राष्ट्रपति (1962-1967) के रूप में कार्य किया।

वह अपने समय के सबसे प्रभावशाली विचारकों में से एक थे, और उनके कार्यों का व्यापक रूप से कई भाषाओं में अनुवाद किया गया है।
राधाकृष्णन का जन्म तमिलनाडु के तिरुतानी में एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उन्होंने क्रिश्चियन कॉलेज, मद्रास और मद्रास विश्वविद्यालय में दर्शनशास्त्र का अध्ययन किया। उन्होंने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाई की, जहां उन्हें ऑल सोल्स कॉलेज की प्रतिष्ठित फेलोशिप से सम्मानित किया गया।

Dr Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi PDF Download

राधाकृष्णन के दार्शनिक लेखन सामाजिक और नैतिक मुद्दों के लिए एक गहरी चिंता के रूप में चिह्नित हैं। अपनी पुस्तक द फिलॉसफी ऑफ द उपनिषद में, उनका तर्क है कि भारतीय आध्यात्मिक परंपराओं का विश्व की दार्शनिक विरासत में एक महत्वपूर्ण योगदान है।
राधाकृष्णन भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में भी सक्रिय थे, और 1949 से 1952 तक सोवियत संघ में भारत के राजदूत के रूप में कार्य किया। वह जवाहरलाल नेहरू के करीबी दोस्त थे, और गुटनिरपेक्ष आंदोलन के गठन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
राधाकृष्णन का निधन 17 अप्रैल, 1975 को चेन्नई में हुआ था।

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन, जो भारत के पहले उपराष्ट्रपति (1952-1962) थे और एक शिक्षक और दार्शनिक भी थे। यह दिन बच्चों और उनके गुरुओं के बीच के बंधन का सम्मान करने के लिए मनाया जाता है जो उनके जीवन को कई तरह से प्रभावित करते हैं।

डॉ राधाकृष्णन भारत के दूसरे राष्ट्रपति (1962-1967) भी थे। अपनी सभी उपलब्धियों और योगदानों के बावजूद, डॉ राधाकृष्णन जीवन भर शिक्षक बने रहे। उनका मानना ​​​​था कि सच्चे शिक्षक वे हैं जो हमें अपने लिए सोचने में मदद करते हैं, इसलिए उन्हें राष्ट्र में सबसे अच्छा दिमाग होना चाहिए।

भारत में, 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में चिह्नित किया जाता है, जबकि विश्व शिक्षक दिवस हर साल 5 अक्टूबर को मनाया जाता है। यह दिन शिक्षकों और छात्रों दोनों के जीवन में एक महत्वपूर्ण घटना है। यह सभी आकाओं और शिक्षकों के सम्मान और आभार प्रकट करने का दिन है। भारत भर में, स्कूल और उच्च शिक्षण संस्थान डॉ राधाकृष्णन को श्रद्धांजलि देकर इस दिन को मनाते हैं।

Facts You should Know about Dr Sarvapalli Radhakrishnan in Hindi

  • डॉ राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर, 1888 को आंध्र प्रदेश के तिरुत्तानी में एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उन्हें एक अविश्वसनीय छात्र माना जाता था और एक अनुकरणीय शिक्षक भी थे जिन्होंने अपना जीवन शिक्षा के लिए समर्पित कर दिया था।
  • डॉ राधाकृष्णन अपने शिक्षण करियर के दौरान अपने छात्रों के बीच एक लोकप्रिय शिक्षक थे। अपने जीवन के बाद के दौर में, उन्होंने आंध्र विश्वविद्यालय और बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के कुलपति के रूप में कार्य किया।
  • डॉ राधाकृष्णन की मान्यताओं ने हजारों लोगों को शिक्षा ग्रहण करने के लिए प्रेरित किया है।
  • 1962 में जब डॉ राधाकृष्णन ने भारत के दूसरे राष्ट्रपति का पद संभाला, तो उनके छात्रों ने 5 सितंबर को एक विशेष दिन के रूप में मनाने की अनुमति मांगी। इसके बजाय डॉ राधाकृष्णन ने समाज में शिक्षकों के योगदान को मान्यता देने के लिए 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाने का अनुरोध किया।
  • उन्होंने कहा, “मेरा जन्मदिन मनाने के बजाय 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए तो यह मेरे लिए गौरव की बात होगी।” तभी से उनके जन्मदिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है।
  • डॉ राधाकृष्णन को मरणोपरांत देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया।

You can download the Biography of Dr Sarvaplli Radhakrishnan in Hindi PDF by clicking on the below download button.


Dr Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi PDF Download Link

Report a Violation
If the download link of Gujarat Manav Garima Yojana List 2022 PDF is not working or you feel any other problem with it, please Leave a Comment / Feedback. If Dr Sarvepalli Radhakrishnan in Hindi is a copyright, illigal or abusive material Report a Violation. We will not be providing its PDF or any source for downloading at any cost.

RELATED PDF FILES

Leave a Reply

Your email address will not be published.