PDFSource

राज्य के नीति निर्देशक तत्व PDF

राज्य के नीति निर्देशक तत्व PDF Download

राज्य के नीति निर्देशक तत्व PDF Download for free using the direct download link given at the bottom of this article.

राज्य के नीति निर्देशक तत्व PDF Details
राज्य के नीति निर्देशक तत्व
PDF Name राज्य के नीति निर्देशक तत्व PDF
No. of Pages 28
PDF Size 0.47 MB
Language English
Categoryहिन्दी | Hindi
Source pdffile.co.in
Download LinkAvailable ✔
Downloads28
If राज्य के नीति निर्देशक तत्व is a illigal, abusive or copyright material Report a Violation. We will not be providing its PDF or any source for downloading at any cost.

राज्य के नीति निर्देशक तत्व

नमस्कार मित्रों, आज इस लेख के माध्यम से हम आप सभी के लिए राज्य के नीति निर्देशक तत्व PDF प्रदान करने जा रहे हैं। भारत की राज्य नीति के निदेशक सिद्धांत भारत को संचालित करने के लिए संस्थानों को दिए गए दिशा-निर्देश या सिद्धांत को कहा जाता हैं। भारत के संविधान के भाग IV में राज्य के नीति निर्देशक तत्व को अनुच्छेद 36 से 51 तक  प्रदान किया गया है।

राज्य के नीति निर्देशक तत्वों को एक न्यायपूर्ण समाज की स्थापना के लिए कानून बनाने में उपयोग किया जाता है। यह सभी सिद्धांत आयरलैंड के संविधान में दिए गए नीति निर्देशक सिद्धांतों से प्रेरित हैं जो सामाजिक न्याय, आर्थिक कल्याण, विदेश नीति और कानूनी और प्रशासनिक मामलों से संबंधित हैं। निर्देशक सिद्धांतों को निम्नलिखित श्रेणियों के तहत वर्गीकृत किया गया है जो कि आर्थिक और समाजवादी, राजनीतिक और प्रशासनिक, न्याय और कानूनी, पर्यावरण, स्मारकों का संरक्षण, शांति और सुरक्षा हैं।

इस लेख के माध्यम से आप आसानी से भारतीय संविधान के राज्य के नीति निर्देशक सिद्धांतों के बारे में जान पाएंगे। यह विषय किसी भी प्रकार की प्रतियोगी परीक्षा एवं IAS परीक्षा के लिए अत्यंत ही महत्वपूर्ण हैं और जो विद्यार्थी सरकारी नौकरी पाने के उम्मीदवार हैं। उन सभी के लिए यह पोस्ट अत्यंत ही लाभकारी सिद्ध होगी।

राज्य के नीति निर्देशक तत्व PDF

भारतीय संविधान के नीति-निर्देशक तत्त्व

अनुच्छेद

विवरण

36 राज्य की परिभाषा का वर्णन किया गया है
37 इस भाग में अंतर्विष्‍ट तत्‍वों का लागू होना अनिवार्य है
38 राज्‍य लोक कल्‍याण की अभिवृद्धि के लिए सामाजिक व्‍यवस्‍था बनाएगा
39 राज्‍य द्वारा अनुसरणीय कुछ नीति तत्‍व
39क समान न्‍याय और नि:शुल्‍क विधिक सहायता
40 ग्राम पंचायतों का संगठन
41 कुछ दशाओं में काम, शिक्षा और लोक सहायता पाने का अधिकार
42 काम की न्‍यायसंगत और मानवोचित दशाओं का तथा प्रसूति सहायता का उपबंध
43 कर्मकारों के लिए निर्वाह मजदूरी आदि
43क उद्योगों के प्रबंध में कार्मकारों का भाग लेना
44 नागरिकों के लिए एक समान नागरिक संहिता
45 बालकों के लिए नि:शुल्‍क और अनिवार्य शिक्षा का उपबंध
46 अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्‍य दुर्बल वर्गों के शिक्षा और अर्थ संबंधी हितों की अभिवृद्धि
47 पोषाहार स्‍तर और जीवन स्‍तर को ऊंचा करने तथा लोक स्‍वास्‍थ्‍य को सुधार करने का राज्‍य का कर्तव्‍य
48 कृषि और पशुपालन का संगठन
48क पर्यावरण का संरक्षण और संवर्धन और वन तथा वन्‍य जीवों की रक्षा
49 राष्‍ट्रीय महत्‍व के संस्‍मारकों, स्‍थानों और वस्‍तुओं का संरक्षण देना
50 कार्यपालिका से न्‍यायपालिका का पृथक्‍करण
51 अंतरराष्‍ट्रीय शांति और सुरक्षा की अभिवृद्धि

राज्‍य के नीति निर्देशक सिद्धांत PDF

संविधान कुछ राज्‍य के नीति निर्देशक तत्‍व निर्धारित करता है, यद्यपि ये न्‍यायालय में कानूनन न्‍यायोचित नहीं ठहराए जा सकते, परन्‍तु देश के शासन के लिए मौलिक हैं, और कानून बनाने में इन सिद्धान्‍तों को लागू करना राज्‍य का कर्तव्‍य है। ये निर्धारित करते हैं कि राज्‍य यथासंभव सामाजिक व्‍यवस्‍था जिसमें-सामाजिक, आर्थिक और राजनैतिक न्‍याय की व्‍यवस्‍था राष्‍ट्रीय जीवन की सभी संस्‍थाओं में कायम करके जनता नीतियों को ऐसी दिशा देगा ताकि सभी पुरुषों और महिलाओं को जीविकोपार्जन के पर्याप्‍त साधन मुहैया कराए जाएं।

समान कार्य के लिए समान वेतन और यह इसकी आर्थिक क्षमता एवं विकास के भीतर हो, कार्य के अधिकार प्राप्‍त करने के लिए प्रभावी व्‍यवस्‍था करने, बेरोजगार के मामले में शिक्षा एवं सार्वजनिक सहायता, वृद्धावस्‍था, बीमारी एवं असमर्थता या अयोग्‍यता की आवश्‍यकता के अन्‍य मामले में सहायता करना।

राज्‍य कर्मकारों के लिए निर्वाह मजदूरी, कार्य की मानवीय स्थितियों, जीवन का शालीन स्‍तर और उद्योगों के प्रबंधन में कामगारों की पूर्ण सहभागिता प्राप्‍त करने के प्रयास करेगा। आर्थिक क्षेत्र में राज्‍य को अपनी नीति इस तरह से बनानी चाहिए ताकि सार्वजनिक हित के निमित सहायक होने वाले भौतिक संसाधनों का वितरण का स्‍वामित्‍व एवं नियंत्रण हो, और यह सुनिश्चित करने के लिए कि आर्थिक प्रणाली कार्य के फलस्‍वरूप धन का और उत्‍पादन के साधनों का जमाव सार्वजनिक हानि के लिए नहीं हो।

कुछ अन्‍य महत्‍वपूर्ण निर्देशक तत्‍व बच्‍चों के लिए अवसरों और सुविधाओं की व्‍यवस्‍था से संबंधित हैं ताकि उनका विकास अच्‍छी तरह हो, 14 वर्ष की आयु तक के सभी बच्‍चों के लिए मुक्‍त एवं अनिवार्य शिक्षा, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्‍य कमजोर वर्गों के लिए शिक्षा और आर्थिक हितों का संवर्धन ग्राम पंचायतों का संगठन; कार्यपालिका से न्‍यायपालिका को अलग करना।

पूरे देश के लिए एक समान सिविल कोड लागू करना, राष्‍ट्रीय स्‍मारकों की रक्षा करना, समान अवसर के आधार पर न्‍याय का संवर्धन करना, मुक्‍त कानूनी सहायता की व्‍यवस्‍था, पर्यावरण की रक्षा और उन्‍नयन और देश के वनों एवं वन्‍य जीवों की रक्षा करना; अंतरराष्‍ट्रीय शान्ति और सुरक्षा का विकास, राष्‍ट्रों के बीच न्‍याय और सम्‍मानजनक संबंध, अंतरराष्‍ट्रीय कानूनों संधि बाध्‍यताओं का सम्‍मान करना, मध्‍यवर्ती द्वारा अंतरराष्‍ट्रीय विवादों का निपटान करना।

राज्य के नीति निर्देशक तत्व PDF डाउनलोड करने के लिए नीचे दिये हुये डाउनलोड बटन पर क्लिक करें।

 


राज्य के नीति निर्देशक तत्व PDF Download Link

Report a Violation
If the download link of Gujarat Manav Garima Yojana List 2022 PDF is not working or you feel any other problem with it, please Leave a Comment / Feedback. If राज्य के नीति निर्देशक तत्व is a copyright, illigal or abusive material Report a Violation. We will not be providing its PDF or any source for downloading at any cost.

RELATED PDF FILES

Leave a Reply

Your email address will not be published.

हिन्दी | Hindi PDF