PDFSource

शिव चालीसा | Shiv Chalisa PDF in Hindi

शिव चालीसा | Shiv Chalisa Hindi PDF Download

शिव चालीसा | Shiv Chalisa Hindi PDF Download for free using the direct download link given at the bottom of this article.

शिव चालीसा | Shiv Chalisa PDF Details
शिव चालीसा | Shiv Chalisa
PDF Name शिव चालीसा | Shiv Chalisa PDF
No. of Pages 4
PDF Size 0.45 MB
Language Hindi
Categoryहिन्दी | Hindi
Source pdffile.co.in
Download LinkAvailable ✔
Downloads71
If शिव चालीसा | Shiv Chalisa is a illigal, abusive or copyright material Report a Violation. We will not be providing its PDF or any source for downloading at any cost.

शिव चालीसा | Shiv Chalisa Hindi

नमस्कार पाठक आज हम आपके लिए शिव चालीसा PDF / Shiv Chalisa PDF in Hindi लाए हैं। शिव चालीसा भगवान शिव को समर्पित एक भक्ति भजन है। यह हिंदुओं के बीच एक लोकप्रिय प्रार्थना है और कई भक्तों द्वारा प्रतिदिन इसका पाठ किया जाता है। चालीसा में चालीस छंद हैं और यह दो भागों में विभाजित है।

पहले भाग में बीस श्लोक हैं जो भगवान शिव की स्तुति करते हैं और उनकी शक्ति और महानता का वर्णन करते हैं। दूसरे भाग में बीस श्लोक हैं जो चालीसा के जाप के विभिन्न लाभों का विवरण देते हैं। कहा जाता है कि शिव चालीसा उस भक्त के लिए शांति और समृद्धि लाती है जो ईमानदारी और विश्वास के साथ इसका जप करता है।

बहुत से लोग यह भी मानते हैं कि यह किसी के जीवन से बाधाओं को दूर करने में मदद करता है और कठिनाइयों को दूर करने की शक्ति देता है | शिव चालीसा एक सुंदर प्रार्थना है जो हमें भगवान शिव की महानता की याद दिलाती है। यह एक शक्तिशाली उपकरण है जो हमें अपनी समस्याओं को दूर करने और एक सुखी और समृद्ध जीवन जीने में मदद कर सकता है।

शिव चालीसा PDF / Shiv Chalisa Lyrics PDF in Hindi

॥ दोहा ॥

जय गणेश गगरिजा सुवन, मंगल मूल सुजान ।

कहत अयोध्यादास तुम, देहु अभय विदान ॥

॥ चौपाई ॥

जय गगरिजा पगत दीन दयाला । सदा कित सन्तन प्रगतपाला ॥

भाल चन्द्रमा सोहत नीके । कानन कु ण्डल नागफनी के ॥

अंग गौि गशि गंग बहाये। मुण्डमाल तन क्षाि लगाए ॥

वस्त्र खाल बाघम्बि सोहे। छगव को देखख नाग मन मोहे॥

मैना मातुकी हवेदुलािी । बाम अंग सोहत छगव न्यािी ॥

कि गिशूल सोहत छगव भािी । कित सदा शिुन क्षयकािी ॥

नखि गणेश सोहैतहँकै से। सागि मध्य कमल हैंजैसे॥

कागतिक श्याम औि गणिाऊ । या छगव को कगह जात न काऊ ॥

देवन जबही ंजाय पुकािा । तब ही दुख प्रभुआप गनवािा ॥

गकया उपद्रव तािक भािी । देवन सब गमगल तुमगहंजुहािी ॥

तुित षडानन आप पठायउ । लवगनमेष महँमारि गगिायउ ॥

आप जलंधि असुि संहािा। सुयश तुम्हाि गवगदत संसािा ॥

गिपुिासुि सन युद्ध मचाई । सबगहंकृ पा कि लीन बचाई ॥

गकया तपगहंभागीिथ भािी । पुिब प्रगतज्ञा तासुपुिािी ॥

दागनन महँतुम सम कोउ नाही ं। सेवक स्तुगत कित सदाही ं॥

वेद मागह मगहमा तुम गाई । अकथ अनागद भेद नगहंपाई ॥

प्रकटी उदगध मंथन मेंज्वाला । जित सुिासुि भए गवहाला ॥

कीन्ही दया तहंकिी सहाई । नीलकण्ठ तब नाम कहाई ॥

पूजन िामचन्द्र जब कीन्हा । जीत के लंक गवभीषण दीन्हा ॥

सहस कमल मेंहो िहेधािी । कीन्ह पिीक्षा तबगहंपुिािी ॥

एक कमल प्रभुिाखेउ जोई । कमल नयन पूजन चहंसोई ॥

कगठन भखि देखी प्रभुशंकि । भए प्रसन्न गदए इखित वि ॥

जय जय जय अनन्त अगवनाशी । कित कृ पा सब के घटवासी ॥

दुष्ट सकल गनत मोगह सतावै। भ्रमत िहौंमोगह चैन न आवै॥

िागह िागह मैंनाथ पुकािो । येगह अवसि मोगह आन उबािो ॥

लैगिशूल शिुन को मािो । संकट तेमोगह आन उबािो ॥

मात-गपता भ्राता सब होई । संकट मेंपूछत नगहंकोई ॥

स्वामी एक हैआस तुम्हािी । आय हिहु मम संकट भािी ॥

धन गनधिन को देत सदा ही ं। जो कोई जांचेसो फल पाही ं॥

अस्तुगत के गह गवगध किैंतुम्हािी । क्षमहु नाथ अब चूक हमािी ॥

शंकि हो संकट के नाशन । मंगल कािण गवघ्न गवनाशन ॥

योगी यगत मुगन ध्यान लगावैं। शािद नािद शीश नवावैं॥

नमो नमो जय नमः गशवाय । सुि ब्रह्मागदक पाि न पाय ॥

जो यह पाठ किेमन लाई । ता पि होत हैशम्भुसहाई ॥

ॠगनयांजो कोई हो अगधकािी । पाठ किेसो पावन हािी ॥

पुि होन कि इिा जोई । गनश्चय गशव प्रसाद तेगह होई ॥

पखण्डत ियोदशी को लावे। ध्यान पूविक होम किावे॥

ियोदशी व्रत किैहमेशा । ताके तन नही ंिहैकलेशा ॥

धूप दीप नैवेद्य चढ़ावे। शंकि सम्मुख पाठ सुनावे॥

जन्म जन्म के पाप नसावे। अन्त धाम गशवपुि मेंपावे॥

कहैंअयोध्यादास आस तुम्हािी । जागन सकल दुःख हिहु हमािी ॥

॥ दोहा ॥

गनत्त नेम उगठ प्रातः ही, पाठ किो चालीसा ।

तुम मेिी मनोकामना, पूणिकिो जगदीश ॥

मगगसि छगठ हेमन्त ॠतु, संवत चौसठ जान ।

स्तुगत चालीसा गशवगह, पूणिकीन कल्याण ॥

You can download the Shiv Chalisa PDF in Hindi by clicking the below download button. 


शिव चालीसा | Shiv Chalisa PDF Download Link

Report a Violation
If the download link of Gujarat Manav Garima Yojana List 2022 PDF is not working or you feel any other problem with it, please Leave a Comment / Feedback. If शिव चालीसा | Shiv Chalisa is a copyright, illigal or abusive material Report a Violation. We will not be providing its PDF or any source for downloading at any cost.

RELATED PDF FILES

Leave a Reply

Your email address will not be published.

हिन्दी | Hindi PDF