झेन की देन | Jhen Ki Den Class 10 Summary PDF in Hindi

झेन की देन | Jhen Ki Den Class 10 Summary Hindi PDF Download

झेन की देन | Jhen Ki Den Class 10 Summary Hindi PDF Download for free using the direct download link given at the bottom of this article.

झेन की देन | Jhen Ki Den Class 10 Summary PDF Details
झेन की देन | Jhen Ki Den Class 10 Summary
PDF Name झेन की देन | Jhen Ki Den Class 10 Summary PDF
No. of Pages 3
PDF Size 0.54 MB
Language Hindi
CategoryEnglish
Source pdffile.co.in
Download LinkAvailable ✔
Downloads17

झेन की देन | Jhen Ki Den Class 10 Summary Hindi

नमस्कार मित्रों, आज इस लेख के माध्यम से हम आप सभी के लिए झेन की देन / Jhen Ki Den Claa 10 PDF Summary प्रदान करने जा रहे हैं। झेन की देन पाठ एक बहुत ही महत्वपूर्ण विषय पर आधारित है। इस पाठ के माध्यम से लेखक ने जीवन की अत्यधिक व्यस्त जीवन शैली के बारे में बताने का प्रयास किया है एवं उससे होने वाले घातक दुष्परिणामों का भी विस्तृत वर्णन किया है।

झेन की देन के लेखक रविंद्र केलेकर हैं। जिन्होनें इस विषय पर व्यक्ति को बहुत ही अच्छा संदेश प्रदान किया है। इस पाठ के माध्यम से लेखन ने हमें जापान की एक विशेष एवं महत्वपूर्ण प्रकार की टी-सेरेमनी के बारे में समझाने का प्रयत्न किया है, जिसका अर्थ “ध्यान” की प्रकिर्या से है। इस पाठ में लेखक ने मनुष्य को व्यस्त जीवन से हटकर आनंदमय जीवन जीने के लिए प्रेरित किया है।

इस पाठ के माध्यम से उन्होनें यह समझाने का प्रयत्न किया है, कि मनुष्य को अपने वर्तमान में जीना सीखना चाहिए, और उन्होनें वर्तमान को ही एक मात्र सत्य माना है। भूतकाल के बारे में न सोचकर और भविष्य की कल्पना को छोड़कर व्यक्ति को आज का आनंद लेना चाहिए। लेखक का कहना है कि भूत एवं भविष्य पर मानव का कोई वश नहीं है इसीलिए वर्तमान को सुख एवं शांतिपूर्वक जीना चाहिए।

Jhen Ki Den Class 10 PDF Summary (झेन की देन पाठ का सारांश PDF)

  • ‘झेन की देन’ भाग में लेखक ‘झेन’ से प्रेरित हैं।
  • जापानी लोगों ने अपनी संस्कृति में बदलाव नहीं किए हैं।
  • यही संस्कृति उनके जीवन को नई गति, ताज़गी और शांति प्रदान करती है।
  • ‘झेन’ जापान के लोगों की चाय पीने की एक पद्धति है।
  • इसमें कुछ समय गुज़ारकर जापानी लोग अपनी व्यस्तता से भरे जीवन में शांति और चैन के क्षण पा लेते हैं।
  • चाय पीते समय लेखक ने जो भी अनुभव किया है, वह उस अनुभव से अन्य भारतीयों को भी परीचित कराना चाहते हैं।
  • इस चाय पद्धति में वातावरण में इतनी शांति छुपी है, जो उन्हें जीवन की हर चिंता से मुक्त कर देती है।
  • भूत, भविष्य और वर्तमान को मिथ्या साबित कर जीवन के महत्व को दर्शाती है।
  • झेन के कारण लेखक स्वयं को सभी कालों से मुक्त पाता है।

झेन की देन पाठ के लेखक कौन हैं ?

नाम रवीन्द्र केलकर
जन्म 25 मार्च 1925, कुंकोलिम
मृत्यु 27 अगस्त 2010, मडगांव
नागरिकता भारत, ब्रिटिश राज, भारतीय अधिराज्य
व्यवसाय भाषाविद, अनुवादक, लेखक
प्रसिद्धि कारण हिमालयांत
पुरस्कार साहित्य अकादमी पुरस्कार,

पद्म भूषण,

ज्ञानपीठ पुरस्कार

रवीन्द्र केलकर साहित्य सूची

कोंकणी
हिमालयांत (१९७६)
नवी शाळा
सत्याग्रह
मंगल प्रभात
महात्मा
आशे आशिल्ले गांधीजी
कथा आनि कान्यो
तुळशी
वेळेवाईल्लो गुलो
भज ग़ोविन्दम
ऊजवडेचे सूर
भाषेचे समाज शास्त्र
मुक्ति
तीन एके तीन
लाला बाला
ब्रह्माण्डातले तांडव
पान्थस्थ
समिधा
वोथम्बे
सर्जकाची अंतर कथा
महाभारत (भाषांतर)
मराठी
जपान जसा दिसला
गांधीजींच्या सहवासात
हिन्दी
गांधी -एक जीवनी

Jen Ki Den Class 10 PDF

नीचे दिये गए लिंक पर क्लिक करके आप Jhen Ki Den Class 10 PDF को आसानी से डाउनलोड  कर सकते हैं।


झेन की देन | Jhen Ki Den Class 10 Summary PDF Download Link