Qurbani Ka Tarika PDF in Urdu

Qurbani Ka Tarika Urdu PDF Download

Qurbani Ka Tarika Urdu PDF Download for free using the direct download link given at the bottom of this article.

Qurbani Ka Tarika PDF Details
Qurbani Ka Tarika
PDF Name Qurbani Ka Tarika PDF
No. of Pages 1
PDF Size 0.06 MB
Language Urdu
CategoryEnglish
Source pdffile.co.in
Download LinkAvailable ✔
Downloads17

Qurbani Ka Tarika Urdu

Hey guys, here we are going to provide Qurbani Ka Tarika PDF for those people who follow the Islam religion. Eid al-Adha is one of the second and bigger of the two main holidays which is celebrated in the Muslim community. It is also celebrated like the other Eid al-Fitr. Eid al-Adha falls on the 10th day of Dhu al-Hijjah and lasts for four days in the Islamic lunar calendar.

To sacrifice his son Ismail (Ishmael) as an act of obedience to Allah’s command honours the willingness of Ibrahim (Abraham). However, Allah provided him with a lamb which he was supposed to kill in his son’s place because of his willingness to sacrifice his own son in the name of God before Ibrahim could sacrifice his son.

Through our blogpost, you Muslim people easily know about the Qurbani Ka Tarika which can be very fruitful for them. If you are also one of those people who also follow Islam and thus you also want to get the Qurbani Ka Tarika PDF then you can read this article till the end.

कुर्बानी का तरीका क्या है / Qurbani Ka Tarika in Urdu PDF

कुर्बानी के जानवर को बाएं पहलू पर इस तरह लिटाएं कि किब्ले की तरफ उसका मुंह हो और ज़ब्ह करने वाला अपना दाहिना पांव उसके पहलू पर रख कर तेज छूरी से जल्द ज़ब्ह कर दे !

और ज़ब्ह से पहले यह दुआ पढे ! “इन्नी वज्जहतु… तर्जमा मैने अपना मुंह उसकी तरफ़ किया जिसने आसमान और ज़मीन बनाए और मैं मुश्रिक़ीन में नहीँ । ( पारा 7 सूरह अनआम ) अल्लाहुम्म लका वमिन का बिस्मिल्लाहीँ अल्लाहु अकबर दुआ ख़त्म होते ही छुरी चला दें !

कुर्बानी अपनी तरफ से हो तो ज़ब्ह के बाद ये दुआ पढे ।

अल्लाहुम्मा तकब्बल मिन्नी कमा तकब्बलता मिन ख़लीलिक इबराहीमा अलैहिस्सलामु व हबीबिक मुहम्मदिन सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम !

अगर दूसरे की तरफ से ज़ब्ह किया हो तो मिन्नी कीं जगह मिन फला कहें ! यानी उसका नाम ले! मतलब अल्लाहुम्मा तकब्बल मिन ( यहाँ जिसकी तरफ से क़ुरबानी हो उसका नाम ले जैसे- मिन रशीद  , मिन जमील वगैरह कमा तकब्बलता मिन ख़लीलिक इबराहीमा अलैहिस्सलामु व हबीबिक मुहम्मदिन सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम !

और अगर जानवर मुश्तरक ( शिरकत की कुर्बानी ) हो ! मतलब कुछ लोग मिलकर क़ुर्बानी कर रहे हो तो – ऊंट, भैंस वगेरह, तो फला ( मिन ) की जगह सब शरीको के नाम ले !

नोट कुर्बानी का जानवर अगर खुद ज़ब्ह ना कर सके तो किसी सुन्नी सहीहुल अकीदा ही से ज़ब्ह कराएं ! अगर किसी बद अकीदा और बेदीन जैसे वहाबी, देवबंदी, गैर मुकल्लिद, कादियानी वगेरह से क़ुर्बानी का जानवर ज़ब्ह कराया तो कुर्बानी नही होगी !

ईसीं तरह हरगिज़ हरगिज़ किसी बद मजहब व बेदीन के साथ कुर्बानी में हिस्सा ना लें । वरना आपकी कुर्बानी भी जाया (बेकार) हो जाएगी ! और गुनाह का बोझ सर पर आएगा वो अलग है ! ख़याल रहे कि क़ुर्बानी का गोश्त वगेरह कुफ्फार व मुश्रिक़ीन को देना मना है !

( फ़तावा रज़विया, फतावा फेजुर्रसूल )

कुर्बानी करने का सही तरीका / Qurbani Ka Tarika PDF

कुर्बानी करने के तरीके में यह जानना हर उस मुसलमान बालिग शख्स के लिए जरूरी है; जिस पर कुर्बानी वाजिब है, और जो इस साल बकरा ईद में कुर्बानी करने वाला हो। कुर्बानी करना इस्लाम में एक वाजिब इबादत है, जोकि हजरत इब्राहिम अलैहिस्सलाम की सुन्नत है, इसे अल्लाह ने उम्मते मोहम्मदिया पर सुन्नत करार दिया है।

रसूलल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम फरमाते हैं, कि अल्लाह को बकरीद के दिन कुर्बानी करने से ज्यादा कोई और अमल खास महबूब और पसंद नहीं है। इस एक हदीस से हम यह समझ सकते हैं, कि कुर्बानी की अहमियत इस्लाम में कितनी आला है; इसलिए आज हम qurbani karne ka sunnat tarika बताएंगे जिससे कि आप इस अज़ीम ओ शान इबादत की फजीलत को हासिल कर सकें।

क़ुरबानी बकरीद के दिन में की जाती है, जो की एक इबादत है, जो की मालदार सख्स (पैसे वाले लोगों) पर ही वाजिब है; इसका मतलब की अल्लाह ता’आला ने जिसे हर चीज़ से नवाज़ा है, क़ुरबानी सिर्फ़ उसी पर वाजिब है। बकरीद में क़ुरबानी किसी हलाल जानवर को अल्लाह सुभानवताला की रज़ा के लिए जिबह करना क़ुरबानी है; और अल्लाह उसकी रज़ा के लिए कुर्बानी करने वालों को पसंद करता है, और ढेरों नेकियां अता करता है।

Eid Uu Adha 2022: Details

Official name Eid ul-Adha
Observed by Muslims
Type Islamic
Significance
Commemoration of Abraham (Ibrahim)’s willingness to sacrifice his son in obedience to a command from God
End of the annual Hajj to Mecca
Observances Eid prayers, animal slaughter, charity, social gatherings, festive meals, gift-giving

You can download Qurbani Ka Tarika in Urdu PDF by clicking on the following download link.


Qurbani Ka Tarika PDF Download Link