द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर हिंदी | The Intelligent Investor PDF in Hindi

द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर हिंदी | The Intelligent Investor Hindi PDF Download

द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर हिंदी | The Intelligent Investor Hindi PDF Download for free using the direct download link given at the bottom of this article.

द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर हिंदी | The Intelligent Investor PDF Details
द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर हिंदी | The Intelligent Investor
PDF Name द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर हिंदी | The Intelligent Investor PDF
No. of Pages 132
PDF Size 1.10 MB
Language Hindi
CategoryEnglish
Source pdffile.co.in
Download LinkAvailable ✔
Downloads17

द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर हिंदी | The Intelligent Investor Hindi

नमस्कार मित्रों, आज इस लेख के माध्यम से हम आप सभी के लिए द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर बुक इन हिंदी / The Intelligent Investor PDF in Hindi प्रदान करने जा रहे हैं। द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर एक बहुत ही प्रसिद्ध एवं ज्ञानवर्धक पुस्तक है, जिसके माध्यम से आप आसानी से अपने जीवन में आर्थिक प्रबंधन कर सकते हैं, तथा उससे जुड़ी बारीकियों के बारे में और अधिक महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर पुस्तक के लेखक Benjamin Graham हैं। दुनिया के सबसे अमीर आदमी Warren Buffet का नाम कभी न कभी तो अपने सुना ही होगा। कहा जाता है कि उन्होने भी यह पुस्तक (The Intelligent Investor) बहुत अच्छे से पढ़ी थी। तो मित्रों, अगर आप भी यह पुस्तक पढ़के आर्थिक प्रबंधन से जुड़े विषय के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस पोस्ट के माध्यम से इसे डाउनलोड करके इसका लाभ प्राप्त कर सकते हैं। जिसकी लिंक हमने इस आर्टिकल के अंत में दी हुई है।

द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर बुक इन हिंदी / The Intelligent Investor Book Summary in Hindi

द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर पुस्तक में 13 chapter हैं जिनमें से कुछ यहाँ नीचे दिये गए हैं, शेष chapter को आप पीडीएफ़ प्रारूप में फ्री में डाउनलोड करके पढ़ सकते हैं।

Chapter 1 – The History of the Stock Market

  • Stocks में invest करने से पहले आपको market की history का पता होना चाहिए।
  • यह भी पता होना चाहिए कि किस share ने past में कैसा perform किया था। इस से आपको उस share की चाल समझ आएगी, और आप उसमें धोखा नहीं खायेंगे।
  • जैसे आपको पता होगा की 2008 में market crash कर गया था। लेकिन जिन लोगों ने उस समय invest किया था वे करोड़पति बन गए थे। क्युँकि उन्होंने shares बहुत कम दामों पर खरीदे थे।
  • ऐसे ही 2019 में Corona की वजह से market crash कर गया था। वह समय भी invest करने के लिए अच्छा था।
  • कुछ लोगों को नुक्सान भी हुआ था। लेकिन अगर वे average कर लेते, यानि उन्ही shares को कम दामों पर खरीद लेते तो उनका नुक्सान फायदे में बदल जाता।
  • तो इस तरह market history हमें बताती है, कि market कभी न कभी बुरी तरह से crash करता है। उस समय हमें फायदा उठाना चाहिए। न कि panic करना चाहिए।
  • ऐसे ही किसी company की history भी आपको फायदा पहुँचा सकती है।
    जैसे Reliance की history सबको पता है।
  • कैसे textile से शुरू होकर वे retail, petroleum, telecom तक आये।
    और उनके investors को बहुत ज्यादा फायदा हुआ।
  • इसलिए historical events पर नजर रखें।

Chapter 2 – Beware of Inflation

  • समय के साथ आपकी दौलत की value कम हो जाती है।
  • जैसे 2000 में मिलने वाले 10,000 और आज के 40,000 बराबर हैं।
  • मतलब आज आपके 10,000 उस time के मुकाबले 2500 की value पर आ गए हैं।
  • ऐसा inflation यानि महंगाई दर के बढ़ने के कारण होता है।
  • अगर आपकी salary 2 % बढ़ जाये तो आप खुश हो जाते हैं।
  • लेकिन अगर inflation भी 4 % बढ़ जाए तो वास्तव में आपको 2 % का नुक्सान ही होगा।
  • इसलिए अगर आप पैसा घर पर या बैंक में रखते हैं तो वह समय के साथ grow नहीं करेगा। लेकिन अगर उसे invest करेंगे तो वह कई गुना बढ़ेगा।
  • जैसे अगर आपने 10 साल पहले 1 लाख का जमीन का प्लाट लिया होगा, तो दस साल बाद वह 10 लाख का हो सकता है।
  • लेकिन वही 1 लाख घर पर रखोगे तो वह 1 लाख ही रहेगा।
    बैंक में भी थोड़ा सा ही व्याज मिलेगा।

Chapter 3 – Stocks Overcome Inflation Partially

  • Inflation को सबसे ज्यादा beat shares करते हैं। और कई गुना return देते हैं। लेकिन invest करने से पहले share market के बारे में उचित ज्ञान हासिल करना चाहिए।
  • थोड़ी inflation बढ़ना फायदेमंद होता है। क्युँकि इससे companies भी अपने rate बढाती हैं। और share का price ऊपर चला जाता है।
  • लेकिन बहुत ज्यादा inflation नुकसानदायक है। क्युँकि इससे महंगाई भी बढ़ जाती है। और consumer सामान नहीं खरीदते।
  • इससे company को घाटा होता है। और share का price नीचे चला जाता है।
  • इसलिए share में तब invest करना चाहिए जब inflation rate mid -range में हो। न बहुत ज्यादा हो न बहुत कम।

Chapter 4 – REITs Can Overcome inflation

  • REITS का मतलब है Real Estate Investment Trusts। ये ऐसी companies हैं जो property और buildings आदि rent पर देती हैं।
  • ये inflation को पूरी तरह beat करती हैं। Inflation का इन पर ज्यादा असर नहीं पड़ता। और investors को भी घाटा नहीं होता।
  • जैसे अगर आपने plot लिया है तो उसकी कीमत बढ़ेगी ही। अचानक से नहीं गिरेगी।
  • दूसरी और shares एकदम से गिर जाते हैं। और कुछ लोग तो सड़क पर भी आ जाते हैं।
  • ऐसे ही अगर आपने अपनी building किराये पर चढ़ाई है तो Tenant आपको किराया देता रहेगा। आपका किराया एकदम से ऊपर – नीचे नहीं होगा ।
  • इसलिए real estate में invest करना सबसे safe समझा जाता है।
  • लेकिन इसमें दूसरे parameters जैसे location, future project आदि का ध्यान रखा जाना चाहिए।
  • investment कोई भी हो, आँख बंद करके तो कभी भी नहीं की जानी चाहिए।

Chapter 5 – Age doesn’t matter

  • Investment करने की कोई उम्र नहीं होती।
  • यह किसी भी उम्र में सीखी और शुरू की जा सकती है।
  • इसलिए अपनी उम्र को इसके आड़े न आने दें।
  • लेकिन कुछ बातें जरूर याद रखें।
  • एक जवान आदमी को वृद्ध के मुकाबले Investing का फायदा ज्यादा मिलेगा। इसलिए जल्दी शुरू करना चाहिए।
  • अगर शादीशुदा नहीं हैं तो शादी के खर्चे को ध्यान में रखकर invest कर सकते हैं।
  • अगर आपके बच्चे हैं तो उनकी कॉलेज education या शादी को ध्यान में रखकर investment plans ले सकते हैं।
  • investment के दौरान यह भी दिमाग में रखें कि आप कितने पैसे का नुक्सान झेल सकते हैं।

The Intelligent Investor Summary in Hindi

Chapter 6 – Defensive Investing

  • Investing दो तरह की होती है।
  1. Aggressive
  2. Defensive
  • Aggressive में लोग भाग्य – भरोसे किसी stock में बहुत सा पैसा लगा देते हैं।
    या तो वे करोड़पति बन जाते हैं या रोडपति।
  • यह तरीका बहुत ज्यादा risky है। और लेखक इसके लिए मना करते हैं।
    इसे ही जुआ कहा जाता है।
  • इसके विपरीत defensive investing काफी safe है।
    उसमें आप company की analysis खुद करते हो, तभी जाके कोई फैसला लेते हो।
  • Defensive investing के लिए अच्छी company के shares ढूँढने के लिए लेखक ने कुछ tips दिए हैं :
  1. हमेशा बड़ी company में invest करें। जिसके प्रोडक्ट्स आपने इस्तेमाल किये हों।
  2. उस company के assets उसकी liabilities से ज्यादा होने चाहियें।
  3. Company पर कर्जा नहीं होना चाहिए या बहुत काम हो।
  4. Company ने दस साल तक लगातार मुनाफा कमाया हो।
  5. Company ने 20 साल से dividend दिया हो।
  6. Company के share की P/E ratio पिछली earning की 15 गुना से ज्यादा न हो।
  7. Price to asset ratio बुक वैल्यू से 5 गुना से ज्यादा न हो।
  8. इन tips को ध्यान में रखकर ही आप shares का चुनाव करें। अगर आपको समझ नहीं है तो किसी अच्छे financial advisor की मदद ले सकते हैं, या कोई course कर सकते हैं।

नीचे दिये गए लिंक पर क्लिक करके आप द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर हिंदी पीडीएफ़ / The Intelligent Investor PDF in Hindi को आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं।


द इंटेलिजेंट इन्वेस्टर हिंदी | The Intelligent Investor PDF Download Link